केरल में मिलेगें प्रकृति के खास उपहार

Banner.jpg

Neighbourhood Travel Desk: अगर आपसे पूछा जाए कि आप ट्रिप पर क्यों जाते हैं? तो आप में से ज्यादातर लोग कहेगें कि खुद को रिफ्रेश करने के लिए। वहीं कुछ लोग अपने पार्टनर, फैमिली और दोस्तों के साथ क्वालिटी टाइम बिताने के लिए भी ट्रिप पर जाते हैं। तो जब खुद को रिफ्रेश करना ही है तो क्यों न आयुर्वेद के साथ रिफ्रेश हो। जी हां, अगर आप भी आयुर्वेद टूरिज्म पर जाना चाहते हैं तो केरल से अच्छी जगह और कहां होगी। केरल को करीब से जानने और उसका अनुभव लेने लिए एक ट्रिप केरल की तो बनती है बॉस। केरल में बीते सालों में आयुर्वेद टूरिज्म बहुत फल-फूल रहा है और अब इस मामले में केरल सबसे आगे निकल गया है।

आयुर्वेदिक मसाज का आनंद 

राजधानी तिरुवनंतपुरम (त्रिवेंद्रम) से महज 16 किलोमीटर दूर स्थित कोवलम बीच पर आपको नेचर का एक खूबसूरत पहलू देखने को मिलेगा। कोवलम को भारत के सबसे सुंदर बीचों में से एक माना जाता है। भारत के सबसे खुबसूरत पर मसाज का मजा ही कुछ और है। लाईट हाउस बीच, इवनिंग बीच और समुद्र बीच साथ-साथ हैं जो इसकी खुबसूरती में चार चांद लगा देते हैं। कोवलम में आयुर्वेद पद्धति से मसाज काफी प्रसिद्ध है, लेकिन मसाज के लिए केवल उन्हीं सेंटर पर जाना चाहिए जो सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त हैं, यहां पर नारियल के तेल में विभिन्न जड़ी-बूटियों को मिलाकर शरीर की मालिश की जाती है, खासकर हड्डियों से संबंधित रोगों के लिए ये मसाज बहुत अच्छी है। मसाज के लिए दवाओं के हिसाब से कीमतें तय हैं, जिसमें 300 रुपये से शुरू होकर पांच हजार रुपये प्रति घंटा तक लिया जाता है। हरे-भरे धान के खेतों के बीच ऊंचे नारियल के पेड़ और साथ में बैकवाटर्स। यहां कुल मिलाकर करीब 900 किमी का बैकवाटर्स नेटवर्क है। बांस से बनी इन हाउसबोट्स में परिवार सहित एक रात गुजारी जा सकती है।

 

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s