Real Heroes

ग्लैमरस नौकरी छोड़ कर खाने के शौक को बनाया बिजनेस का जरिया

Neighbourhood Real Heroes Desk

किसने सोचा था कि कोई अपने खाने के शौक की वजह से टीवी इंडस्ट्री की ग्लैमरस नौकरी छोड़ देगा। लेकिन हम आपको आज एक ऐसी ही युवती के बारे में बताएगें कैसे उन्होंने अपने खाने के शौक अपना बिजनेस का जरिया बनाया।

श्रद्धा की करियर ग्रोथ काफी दिलचस्प है, वो अमेरिका में हॉलीवुड में काम किया। लेकिन उन्होंने भारत वापस लौटने के बाद यहां के फूड कल्चर में ऐसी कमियां देखी जिसकी वजह से उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ दी। नौकरी छोड़ने के बाद मिस छोटीस नाम के एक फूडप्रोडक्ट्स ब्रैंड लांच किया।  

भारत वापस लौटने के बाद श्रद्धा ने डिस्कवरी चैनल में काम किया। लंबे प्रोफेशनल अनुभव के बाद उन्हें महसूस हुआ कि उनका असली पैशन को फूड इंडस्ट्री में है। वो हमेशा से ही खाने-खिलाने की शौकीन रही हैं, साल 2007 में उन्होंने भारत लौटने के बाद कुजीन्स के फ्लेवर में काफी अंतर महसूस किया। वो बताती हैं, कि जब मैं दिनभर काम के बाद थक कर घर पहुंचती थी तो मुझे घर का परंपरागत भारतीय खाना बिल्कुल भी पसंद नहीं आता था।

फूड इंडस्ट्री में बिजनेस करने के लिए सिर्फ खाने-पीना का शौकीन होना ही काफी नहीं है, बल्कि आपको इसकी बारीकियों के बारे में जानकारी होनी भी चाहिए। नौकरी छोड़ने के बाद उन्होंने पहले कुछ समय फ्रीलांस काम किया। उसी दौर का एकवाकया साझा करते हुए उन्होंने बताया कि एक बार गोवा के एक इटैलियन रेस्त्रां में वो अपनी बहन के साथ डिनर करने गई थी। उन्हें ये रेस्त्रां बहुत पसंद आया, अगले ही दिन उनकी बहन ने उनसे रेस्त्रां में काम करने की बात कही, श्रद्धा को भी ये ख्याल पसंद आया, दोनों ने तत्काल उस रेस्त्रां के मालिक से बात की, जो उन्हें काफी हैरान किया, क्योंकि श्रद्धा टीवी की ग्लैमरस इंडस्ट्री छोड़ उसमें हाथ आजमाना चाहती थी।

गोवा के इसी रेस्त्रा में श्रद्धा ने दो महीने तक हर काम सीखा, इसके बाद उन्होंने एशिया सेवन (एंबियंस मॉल, गुड़गांव), कोलाबा (मुंबई) के कैलिफोर्नियन रेस्तरां द टेबल में काम किया। दिन भर मेहनत करने के बाद इन बड़े रेस्त्रां में खाने से भी श्रद्धा संतुष्ट नहीं थी। इसकी बड़ी वजह था, जिस तरह के मसाले और सॉस वो यूएस में खाती थी, वो भारत में इस्तेमाल नहीं किया जाता था।

अक्टूबर 2012 में उन्होंने मिस छोटीज के नाम से अपनी कंपनी शुरु की। इस नाम के पीछे उन्होंने बताया कि छोटी एक ऐसा नाम है, जो भारत के हर घर में सुनने को मिल जाता है। उन्होंने अपने ब्रैंड के तहत चार तरह के सॉसेज लांच किए। उन्होंने बताया कि स्टार्टअप के शुरुआत में उन्होंने घर से ही काम शुरु किया था। जब पर्याप्त ऑर्डर मिलने लगे, तो उन्होंने दो हफ्ते बाद बसंत विहार के मॉडर्न बाजार से स्टॉक रखने की बात की। थोड़े ही समय में उनके स्टार्टअप के प्रोडक्ट्स बड़े स्टोर में मिलने लगे।

Advertisements

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s